दही कभी कभी अनहेल्दी भी बन जाता है, जानिए कैसे?
Editor : monika
 21 Sep 2018 |  203

नई दिल्ली: एक नए शोध में बेहद चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है कि दही से बने उत्पाद, खासतौर पर बच्चों के लिए बनाए गए उत्पादों में सॉफ्ट डिंक्स की तुलना में ज्यादा शर्करा हो सकती है। इससे बच्चों में मोटापा और दांत खराब होने का खतरा है। दही और अन्य दूध से बने उत्पादों को स्वास्थ्य वर्धक माना जाता है। इन्हें ‘अच्छे बैक्टीरिया’ का बेहतरीन स्रोत तो माना ही जाता है। साथ ही, इनमें प्रोटीन, कैल्शियम, आयोडीन और विटामिन बी भी होते हैं।
ब्रिटेन के लीड्स विश्वविद्यालय और सरी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं नें 2016 अक्टूबर और नवंबर में ब्रिटेन के पांच प्रमुख ऑनलाइन सुपरमार्केट श्रृंखला में मिलने वाले दही और दही से बने कम से कम 900 उत्पादों के पौष्टिक तत्वों का आंकलन किया। इन उप्तादों को आठ श्रेणियों में बांटा गया। कम वसा और कम शर्करा को यूरोपीय संघ नियामकों के मुताबिक बांटा गया। आंकलन में पता चला कि नेचुरल और ग्रीक योगर्ट को छोड़ सभी श्रेणी के उत्पादों में ग्लूकोज का लेवल औसत मात्रा काफी ज्यादा थी। शोधकर्ताओं का कहना है कि दही से बने सभी उत्पाद उतने स्वास्थ्यवर्धक नहीं होते जितना उपभोक्ता उन्हें समझते हैं।

सोर्स: भाषा


Browse By Tags




Related News

Copyright © 2016 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 1567579