एम्स में दूसरे दिन भी सर्वर डाउन, काम हुए बाधित
| 11/24/2022 2:44:41 PM

Editor :- monika

एम्स (AIIMS) में लगातार दूसरे दिन भी सर्वर डाउन रहा, जिससे मरीजों के इलाज संबंधी जरूरी प्रकिया बाधित रही, पर्ची बनाने से लेकर, जांच रिपोर्ट और ओपीडी काउंटर पर भी मरीजों को मैनुअली कार्ड बना कर दिया गया। एम्स में मैनुअल व्यवस्था के तहत कार्य जारी रखा गया। इस बावत एम्स प्रशासन की ओर से ई-अस्पताल की सेवाएं बहाल होने तक व्यवस्था को मैनुअल मोड या मानवीय तरीके से चलाने के लिए एसओपी (जरूरी दिशा निर्देश) जारी किए गए है। एम्स प्रशासन ने सर्वर डाउन होने की वजह रैमसमवेयर (Ransomware) अटैक की आंशका से इंकार नहीं किया है। एनआईसी नेशनल इंर्फामेशन और अधिकारियों के बीच दूसरे दिन भी बैठक जारी रहीं। 

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में दूसरे दिन गुरुवार को भी सर्वर डाउन होने से ऑनलाइन सेवाएं (On-line Service) प्रभावित रहीं। पर्ची बनने व रिपोर्ट सहित अन्य सभी काम प्रभावित रहे। ऐसे में एम्स कार्य समिति की ओर से ई-अस्पताल की सेवाएं बहाल होने तक व्यवस्थाओं को मैनुअल मोड में चलाने के लिए एसओपी (जरूरी दिशा निर्देश) जारी की है।



 


एसओपी में कहा गया है कि भर्ती/छुट्टी/स्थानांतरण आदि प्रक्रिया को मैनुअल रूप से किया जाना है। अस्पताल संसाधनों के उपकरणों का आर्डर मैनुअल रूप से किया जाना है। एसओपी में निर्देश दिए गए हैं सिर्फ जरूरी सैंपल ही भेजे जाएं और वह भी भरे हुए फॉर्म के साथ। मृत्यु/जन्म प्रमाण पत्र मैनुअल रूप से प्रपत्रों पर बनाया जाएं। सर्वर डाउन रहने के चलते अस्पताल में इलाज के लिए आए हजारों मरीजों परेशान हुए। डॉक्टरों ने मैनुअल पर्ची के माध्यम से मरीजों का इलाज किया। बुधवार सुबह सात बजे एम्स प्रशासन को सर्वन डाउन होने की सूचना मिली, इस बावत कई आरडीए ने सोशल मीडिया पर ट्वीट कर भी परेशानी को साझा किया। एनआईसी को जल्द से जल्द समस्या के समाधन की बात कही गई। 



Browse By Tags



Videos
Related News

Copyright © 2016 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 347756