बच्चों की कोविड वैक्सीन से जुड़ी ये बातें अवश्य जान लें
Editor : Mini
 15 Mar 2022 |  174


नई दिल्ली,
कल यानि 16 मार्च से देशभर में 12 से 14 साल के बच्चों के लिए भी कोविड वैक्सीन शुरू कर दी जाएगी। कल से ही लाभार्थी वैक्सीन के लिए कोविन पार्टल पर पंजीकरण भी करा सकेगें। कोरोबेवैक्स के सफल क्लीनिकल परीक्षण के बाद भारत सरकार ने इसे बच्चों के लिए आपातकालीन प्रयोग की अनुमति दे दी है। बायोलॉजिकल ई कंपनी द्वारा देशभर में कोरबेवैक्स वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी। वैक्सीन की एक डोज में 0.5 एमएल मात्रा की वैक्सीन होगी और इसे इंट्रामॉस्कुलर साइट पर लगाया जाएगा। कोरोबेवैक्स दूसरी डोज चार हफ्ते के अंतराल के बाद दी जाएगी।
कोरोबेवैक्स क्योंकि बच्चों के लिए शुरू की जा रही है, इसलिए अभिभावकों में वैक्सीन को लेकर कई तरह की शंकाएं है, लेकिन अन्य पूर्व स्वीकृत वैक्सीन की तरह की यह भी पूरी तरह सुरक्षित है। बावजूद इसके बच्चों को वैक्सीन लगवाने से पहले कुछ जरूरी सावधानियां अवश्य प्राप्त कर लें।

यदि बच्चे को पहले से किसी तरह का संक्रमण है तो चिकित्सक को बताएं-
वैक्सीन लेने से पहले हेल्थकेयर वर्कर को बच्चे के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी अवश्य दें, जैसे कि यदि बच्चे को पूर्व में किसी तरह का संक्रमण, त्वचा संक्रमण, बुखार या फिर खून को पतला करने वाली दवाएं दी जा रही हैं तो इसकी जानकारी अवश्य दें। वैक्सीन क्योंकि इम्यूनिटी को प्रभावित करती है इसलिए बच्चें को यदि किसी तरह की इम्यूनोकम्प्रेस्ड दवाएं दी जा रही हैं तो इसकी जानकारी भी दें। अन्य किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्याएं होने पर चिकित्सक को इस बारे में अवश्य बताएं। इन सारी परेशानियों में से कोई भी परेशानी नहीं होने पर हेल्थकेयर वर्कर्स वैक्सीन दे सकते हैं और वैक्सीन के बाद 30 मिनट के लिए बच्चों को निगरानी में रखा जाएगा।

मामूली साइड इफेक्ट्स हैं संभव-
अन्य व्यस्क वैक्सीन की तरह ही बच्चों की कोविड वैक्सीन कोरेबेवैक्स के भी मामूली साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, इससे घबराने की जरूरत नहीं है। कोरोबेवैक्स के दस में किसी एक बच्चे को हल्का बुखार, थकान, बदन में दर्द व जुखाम हो सकता है। वहीं सौ में किसी एक बच्चे को वैक्सीन लगने के बाद बेहद आलस्य, ठंड लगना, जोड़ों को दर्द आदि समस्याएं हो सकती हैं। वहीं कुछ बच्चों को इंजेक्शन साइट पर दर्द, सूजन, चकत्ते और खुजली हो सकती है।

सीधे कर सकते हैं संपर्क
इन सभी के बावजूद यदि वैक्सीन लगने के बाद बहुत गंभीर प्रभाव देखने को मिलते हैं तो लाभार्थी नजदीक के स्वास्थ्य केन्द्र या फिर सीधे वैक्सीन कंपनी पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं, इसके लिए 914071216242 हेल्पलाइन नंबर पर किसी भी समय कॉल कर सकते हैं।



Browse By Tags




Related News

Copyright © 2021 Sehat 365. All rights reserved          /         No of Visitors:- 738858